लघुकथा संग्रह ‘सलाम दिल्ली’ के द्वितीय संस्करण का लोकार्पण

  वरिष्ठ साहित्यकार अशोक लव रचित लघुकथा संग्रह ‘सलाम दिल्ली’ के द्वितीय संस्करण का लोकार्पण लेख्य मंजूषा’ पटना द्वारा आयोजित एक भव्य गोष्ठी में प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के प्रांगण के खुले वातावरण में दिनांक 12 सितंबर 2021 को एक उमस भरी दोपहर में संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में ‘लेख्य मंजूषा’ के स्थानीय सदस्यों के अलावा पंजाब और राजस्थान से आए सदस्यों ने भी भाग लिया। ‘सलाम दिल्ली’ स्मृतिशेष रवि प्रभाकर जी की प्रिय लघुकथाओं में से एक थी। वे इस लघुकथा से इतने प्रभावित थे कि उन्होंने कहा था कि…

Read More

साहित्य-सेवक मार्कण्डेय शारदेय को मिला ‘महाकवि प्रभात सम्मान’

महाकवि केदार नाथ मिश्र ‘प्रभात’ हिन्दी साहित्य के अनमोल रत्न थे। उनका ‘कर्ण’ खंड-काव्य भारतीय साहित्य का सबसे ‘अनमोल गहना’ है। उनकी रचनाएं काव्य-कौशल पाठकों को केवल अंदर तक प्रभावित करता है, बल्कि मुग्ध भी करता है ठीक उसी प्रकार की रचना करतें है पंडित मार्कण्डेय शारदेय । यह बातें सोमवार को बिहार हिन्दी साहित्य सम्मेलन में आयोजित केदारनाथ मिश्र प्रभात जयंती समारोह सह साहित्यकार पंडित मार्कण्डेय शारदेय की तीन पुस्तकें दीपशलभ, तत्त्वचिन्तन एवं वाग्मिनी का लोकार्पण के दौरान सम्मेलन के अध्यक्ष अनिल सुलभ ने कहीं। श्री शारदेय को 5100…

Read More