मुकुलारण्यम महाविद्यालय में ‘ सशक्त लोकतंत्र के निर्माण में बेटियों की भूमिका’ विषय पर संगोष्ठी का आयोजन सम्पन्न

मुकुलारण्यम महाविद्यालय के महिला प्रकोष्ठ द्वारा बालिका दिवस एवं मतदाता दिवस के उपलक्ष्य में ‘सशक्त लोकतंत्र के निर्माण में बेटियों की भूमिका’ शीर्षक से सम्बद्ध कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आरंभ महाविद्यालय की छात्रा आस्था चौरसिया के मधुर वाणी में सरस्वती वंदना की प्रस्तुति के साथ किया। तत्पश्चात हमारी मुख्य अतिथि नीलू मिश्रा जो कि बनारस की न केवल ब्रांड एंबेसडर हैं बल्कि बनारस एवं भारतवर्ष की उन बेटियों के लिए प्रेरणा है जो कम संसाधन में भी सपने को पूरा करने का दम रखती है एवं मुख्य…

Read More

विवेकानंद जी के जयंती के अवसर पर संगोष्ठी का आयोजन

जब तक आप खुद पर विश्वास नहीं करते तब तक आप भगवान पर विश्वास नहीं कर सकते। मुकुलारण्यम महाविद्यालय के समाजशास्त्र विभाग द्वारा स्वामी विवेकानंद जी के जयंती के अवसर पर “राष्ट्र निर्माण में युवाओं की भूमिका” विषयक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी में सर्वप्रथम कालेज की छात्रा पूजा सिंह ने सरस्वती वंदना से कार्यक्रम का प्रारम्भ किया, तत्पश्चात मुख्य वक्ता प्रो राकेश उपाध्याय जी (चेयर प्रोफेसर, भारत अध्ययन केंद्र, बी०एच्०यू०) ने स्वामी विवेकानंद जी के जीवन वृत्त पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए, बहुत ही सहजता से उनके…

Read More

JKAACL organizes Dogri Kavi Goshti

Jammu,8th Jan.2022 Jammu and Kashmir Academy of Art, Culture, and Languages today organized a Dogri Kavi Goshti in the ongoing 4-day Poetry Festival, at K L Saigal Hall here. Padam Shree, Dr. Jitendra Udhampuri was Chief Guest on the Occasion while Dr. A S Amn Additional Secretary of JKAACL was in the presidium. Dr. Jitendra Udhampuri in his presidential address appreciated the Academy for its endeavor to develop Dogri language and Culture. He said that there is an urgent need to document the cultural heritage of Dogras. Dr. A S…

Read More

A Nice collection of principles, values, and thoughts

‘Scent of Happiness’ is a collection of 100 principles, values, and thoughts that act as pillars in our lives. From a reader’s perspective, along with the enlightenment that comes with the book, there is also a sense of sudden realization of the fact that how certain fundamentals are overlooked by us in our quest to lead a successful life. For anyone out there in this chaotic world, who feels lost, this book will be a great companion. It is important to point out a few thought-provoking bits and pieces from…

Read More

भारत रत्न श्री अटल बिहारी वाजपेयी प्रखर मानवीय मूल्यों व समरस चेतना के संवाहक

आजादी के अमृत महोत्सव के पावन अवसर पर मुकुलारण्यम् महाविद्यालय, सम्बद्ध महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ, वाराणसी में भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी पर “सामाजिक समरसता व पं. अटल बिहारी बाजपेयी ” विषयक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी में महाविद्यालय परिवार के निदेशक प्रो. शम्भू उपाध्याय जी एवं महाविद्यालय परिवार के प्रबंधक श्री अजय तिवारी जी मुख्य वक्ता रहे। कार्यक्रम का वैचारिक प्रवर्तन करते हुए श्री अजय तिवारी जी ने कहा कि भारत खंड- खंड में विखंडित इसलिए हुआ क्योंकि हम अपनी सांस्कृतिक संपन्नता को विस्मृत करते गए। विदेशी…

Read More

‘मैनावती देवी राष्ट्रीय लोकगायिका सम्मान 2021’ से सम्मानित होंगी संजोली पांडेय

‘मैनावती देवी राष्ट्रीय लोकगायिका सम्मान 2021’ से सम्मानित होंगी लखनऊ की संजोली पांडेय। सांसद एवं प्रख्यात फिल्म अभिनेता रवि किशन जी की उपस्थिति में हुई पुरस्कार की घोषणा। ‘सर्व भाषा ट्रस्ट’ दिल्ली द्वारा आयोजित हुआ वर्चुअल कार्यक्रम। साहित्य, कला, संगीत से जुड़े व्यक्तियों ने अर्पित किया श्रद्धा-सुमन। मैनावती देवी ‘मैना’ के सुपुत्र, उत्तर-प्रदेश संगीत नाटक अकादमी के सदस्य और लोकगायक श्री राकेश श्रीवास्तव जी ने ‘मैनावती देवी राष्ट्रीय लोकगायिका सम्मान’ की योजना की उपयोगिता पर विस्तृत जानकारी दी। मैनावती देवी ‘मैना’ जी लोकगीतों के संरक्षण और संवर्धन के लिए प्रतिबद्ध…

Read More

लघुकथा संग्रह ‘सलाम दिल्ली’ के द्वितीय संस्करण का लोकार्पण

  वरिष्ठ साहित्यकार अशोक लव रचित लघुकथा संग्रह ‘सलाम दिल्ली’ के द्वितीय संस्करण का लोकार्पण लेख्य मंजूषा’ पटना द्वारा आयोजित एक भव्य गोष्ठी में प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के प्रांगण के खुले वातावरण में दिनांक 12 सितंबर 2021 को एक उमस भरी दोपहर में संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में ‘लेख्य मंजूषा’ के स्थानीय सदस्यों के अलावा पंजाब और राजस्थान से आए सदस्यों ने भी भाग लिया। ‘सलाम दिल्ली’ स्मृतिशेष रवि प्रभाकर जी की प्रिय लघुकथाओं में से एक थी। वे इस लघुकथा से इतने प्रभावित थे कि उन्होंने कहा था कि…

Read More

साहित्य-सेवक मार्कण्डेय शारदेय को मिला ‘महाकवि प्रभात सम्मान’

महाकवि केदार नाथ मिश्र ‘प्रभात’ हिन्दी साहित्य के अनमोल रत्न थे। उनका ‘कर्ण’ खंड-काव्य भारतीय साहित्य का सबसे ‘अनमोल गहना’ है। उनकी रचनाएं काव्य-कौशल पाठकों को केवल अंदर तक प्रभावित करता है, बल्कि मुग्ध भी करता है ठीक उसी प्रकार की रचना करतें है पंडित मार्कण्डेय शारदेय । यह बातें सोमवार को बिहार हिन्दी साहित्य सम्मेलन में आयोजित केदारनाथ मिश्र प्रभात जयंती समारोह सह साहित्यकार पंडित मार्कण्डेय शारदेय की तीन पुस्तकें दीपशलभ, तत्त्वचिन्तन एवं वाग्मिनी का लोकार्पण के दौरान सम्मेलन के अध्यक्ष अनिल सुलभ ने कहीं। श्री शारदेय को 5100…

Read More

‘सर्व भाषा ट्रस्ट’ के अध्यक्ष सम्मानित

हिन्दी दिवस के अवसर पर ‘सर्व भाषा ट्रस्ट के अध्यक्ष और वरिष्ठ साहित्यकार श्री अशोक लव जी को ‘उषा राज साहित्य अकादमी, झाबुआ’ द्वारा ‘साहित्य साधक सम्मान’ से सम्मानित किया गया। यह सम्मान देश के आठ साहित्यकारों को दिया गया। राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनाने वाली वनवासी अंचल झाबुआ की ‘उषा राज साहित्य अकादमी’ ने हिन्दी दिवस की पूर्व संध्या पर देश के आठ साहित्यकारों को ‘साहित्य साधक सम्मान’ दिया। जिसमें ‘सर्व भाषा ट्रस्ट’ के अध्यक्ष श्री अशोक लव, झाबुआ की सुश्री लता देवल, राजेश डामोर जी, डॉ अनिल श्रीवास्तव…

Read More

‘तत्त्वचिन्तन’ का लोकार्पण एवं बृहद चर्चा

यह एक पुस्तक नहीं, एक शोध है। इस पुस्तक में पूरी शास्त्रीयता के साथ लेखक ने अपने विषयों को प्रस्तुत किया है। इस पुस्तक के लेखों में विश्लेषण की गुंजाइश नहीं, केवल स्वीकृति है। इन लेखों को पाठ्यक्रमों में रखने से आज की चेतना के लिए बहुत बड़ा पथ-प्रदर्शन हो जायेगा। मुझे पुस्तक की तत्समता ने बहुत प्रभावित किया। इतिहास ने बहुत प्रभावित किया। इस पुस्तक का एक लेख – ‘गंगा-सागर मिलन’ पढ़कर उसकी काव्यात्मकता के कारन मुझे पंत याद आ गए। इस पुस्तक में रोचकता है। वह रोचकता कहने…

Read More